IPS OFFICER कैसे बने पूरी जानकारी 2021

हेलो दोस्तों मैं आप सभी को आपके अपने ब्लॉग  costudybuddy.com  पर स्वागत करता हूं आज हम इस ब्लॉग पर IPS OFFICER कैसे बने उसके बारे में पूरी जानकारी बताने जा रहा हूं मैं आशा करता हूं कि मेरे द्वारा बताई सारी जानकारी आपको आईपीएस ऑफिसर बनाने में सहायक हो और एक कामयाबी के ऊंचाई के शिखर को छू सकें ।

बहुत से छात्रों का सपना होता है कि वह आईपीएस ऑफिसर बन सके आईपीएस ऑफिसर बनने के बाद उसकी एक अलग पहचान बन जाती है यह एक ऐसा रैंक है जिसमें पैसे के साथ-साथ इज्जत भी बहुत मिलते हैं आज के समय को देखते हुए हर छात्र यही चाहता है उसको इज्जत मिले सम्मान मिले और वह सर्वगुण संपन्न हो और ऐसे ही कई छात्र एक दूसरे को देखकर उनके अंदर प्रतिदिन रुचि बढ़ती रहती है

आज के पोस्ट में हम आपको इसके बारे में जानकारी देने वाले हैं जिससे आप एक सफल आईपीएस ऑफिसर बन सके। जैसा कि आप जानते हैं आईपीएस एक क्लास वन रैंक अधिकारी होता है आईपीएस के अंतर्गत एसपी ASP,डीएसपी DSP, एसपी SP,एसएसपी SSP,डीआईजी DIG,आईजी IG, डीजीपी DGP, सभी आईपीएस अधिकारी होते हैं

आईपीएस ऑफिसर कैसे बने पूरी जानकारी (2021)

IPS OFFICER KAISE BANE –

IPS का पूरा नाम INDIAN POLICE SERVICE होता है IPS को हिंदी में भारतीय पुलिस सेवा कहते हैं आईपीएस ऑफिसर का कार्य कानून व्यवस्था के लिए दिशा निर्देश , अपराध को कंट्रोल करना तथा कानून व्यवस्था को बनाए रखना होता है

भारत सरकार के तीन ALL INDIA SERVICE में से एक IPS होता है जिसे पुलिस सर्विस के रूप में माना जाता है IPS एक उच्च स्तरीय सर्विस है

भारतीय पुलिस सर्विस का गठन 1948 में भारत की आजादी के 1 साल बाद किया गया था ।आईपीएस अधिकारी बनने के लिए हमें संघ लोक सेवा आयोग UPSC  की परीक्षा के माध्यम से भर्ती किया जाता है यह परीक्षा हर साल आयोजित की जाती है जिससे हमारे रैंक के अनुसार तीन सर्विस में बाटा जाता है  IAS,IFS,IPS

एक आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए हमें सिविल सर्विस एग्जाम क्लियर करना होता है यह एग्जाम क्लियर करके हम भारतीय पुलिस में क्लास वन ऑफिसर बन सकते हैं UPSC (UNION PUBLIC SERVICE COMMISSION  )

हर साल इस एग्जाम को निकालती है हर साल लाखों उम्मीदवार इस एग्जाम में बैठते हैं लेकिन सिर्फ कुछ उम्मीदवारों का ही चयन होता है इसलिए उन उम्मीदवारों में अपना नाम लाने के लिए हमें कड़ी मेहनत करनी होगी।

शैक्षिक योग्यता और उम्र सीमा

भारत में होने वाली परीक्षा को भारत, भूटान,  नेपाल के ग्रेजुएट छात्र बैठ सकते हैं इस परीक्षा के लिए छात्रों की उम्र 21 से 32 साल के बीच होनी चाहिए तथा इसमें ST श्रेणी के उम्मीदवारों को 5 साल की छूट दी जाती है
सामान्य श्रेणी के छात्रों को इस परीक्षा को उत्तीर्ण करने के लिए चार प्रयास मिलते हैं और OBC छात्रों को 7 प्रयास और ST, SC उम्मीदवारों के लिए कोई प्रतिबंध नहीं है

IPS सेवा अपने आप में केवल एक पद है जो कि राज्य पुलिस और सभी भारतीय केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों के कर्मचारियों को बल प्रदान करता है अर्थात बड़े पद के साथ ही बड़ी जिम्मेदारियां भी आती है तथा इनको निम्न भागों में बांटा गया है जैसे अपराध शाखा , होमगार्ड, सीआईडी आदि

शारीरिक योग्यता
पुरुष

लंबाई – सामान्य श्रेणी का 165 सेंटीमीटर होनी चाहिए तथा OBC/SC 160 सैंटीमीटर पर अप्लाई कर सकते हैं

चेस्ट – लगभग 84 सेंटीमीटर होना चाहिए।

आई साइट – स्वस्थ आंखों का विजन 6/6 या 6/9 होना चाहिए कमजोर आंखों विजन 6/12 या 6/9 होना चाहिए

2. महिला

लंबाई – सामान्य श्रेणी का 150 सेंटीमीटर होना चाहिए . 145 सेंटीमीटर SC/OBC भी अप्लाई कर सकते हैं

चेस्ट – 79 सेंटीमीटर होना चाहिए

आई साईट – महिला और पुरुष की समान होती है
6/6 या 6/9 ये अच्छे होने का गुड़ है
6/12 या 6/9 ये आखे कमजोर होने का गुड़ है

एग्जाम : आईएएस ऑफिसर बनने के लिए हमें यूपीएससी (UPSC) द्वारा आयोजित civil service exam clear करना होता है यह परीक्षा दो भाग में होती है।

(1) Preliminary exam

(2) Main exam

Preliminary exam यह परीक्षा जून माह में आयोजित की जाती है परीक्षा के इस चरण में हमें दो पेपर देने होते हैं  (1) सामान्य अध्ययन (General Studies) जो कि प्रथम प्रश्न पत्र के रूप में आता है
(2) सिविल सर्विसेज एप्टीट्यूड टेस्ट (Civil Services Aptitude Test) इस एग्जाम में दो – दो सौ के दो पेपर होते है वह दोनों ही पेपर ऑब्जेक्टिव (objective) और मल्टीपल चॉइस (multipal choice) क्वेश्चन होते हैं

Paper 1st – प्रथम पेपर में पूछे जाने वाले कुछ विषयों के नाम।

National और International Current Affairs, Indian History, Indian National Movement, India-Word Ki Geography,Indian Monarchy,Governance Constitution,Political System,Panchayati Raj,Public Policy,Environmental Ecology,Bio-Diversity,Climate Change, General Science आदि जैसे विषय से (Objective Question )ऑब्जेक्टिव क्वेश्चन पूछे जाते हैं तथा इस क्वेश्चन पेपर (Question Paper)के लिए समय सीमा 2 घंटे की होती है

Paper 2nd – द्वितीय पेपर में पूछे जाने वाले कुछ विषयों के नाम ।

Comprehensive,Interpersonal Skills, Logical Reasoning, Analytical Ability, Decision Making, Problem Solving, General Mental Ability, Basic NumressieData Interpretation Chart Craft Table
इन्हीं सब विषयों से संबंधित क्वेश्चन पूछे जाते हैं इस पेपर को पूरा करने की समय सीमा 2 घंटे की होती है

Main exam – यह main exam दो चरण में होता है पहला written exam इसमें कुल 9 पेपर देने होते हैं जिनमें दो पास करके A और B और बाकी अन्य 7 मेरिट के लिए होते हैं अर्थात इन कुल् नौ पेपर पास करने के बाद हमें इंटरव्यू देना होता है

Interview – यह हमारे आईपीएस ऑफिसर बनने का आखिरी पड़ाव होता है यह पड़ाव मेन एग्जाम क्लियर करने के बाद आता है इसके बाद पर्सनल इंटरव्यू राउंड होता है यह interview round कुल 45 मिनट का होता है

इंटरव्यू के बाद दिए हुए पेपर के नंबर के अनुसार मेरिट लिस्ट तैयार की जाती है मेरिट लिस्ट बनाते हुए qualify पेपर के नंबर नहीं जोड़े जाते हैं इस interview round मैं आपका सब कुछ देखा जाता है किस तरह आप अंदर entry किए कैसे बैठे आपका बोलना बात करना जवाब देना आपकी सारी एक्टिविटी को वहां देखा जाता है

उन्हीं छोटी छोटी चीजों को देखकर आप का चुनाव होता है आपकी सारी एक्टिविटी आपके आईपीएस अधिकारी बनने में मदद करती है

Training – ट्रेनिंग का समय कुल 11 महीनों का होता है सभी आईएएस अधिकारियों को इनडोर आउटडोर और सभी योग्यताएं वाले विषय का अध्ययन कराया जाता है

जिससे वह ड्यूटी के समय आने वाली समस्याओं का डटकर मुकाबला कर सके और जनता की सहायता कर सकें उन्हें फिजिकल ट्रेनिंग भी दी जाती है

आईपीएस अधिकारि की सैलरी-   आज की आय की बात करें तो एक आईपीएस अधिकारी की सैलरी चाहे वह निम्न स्तर पर हो या मध्य स्तर पर हो या उच्च स्तर पर हो बहुत ही अंतर नहीं है

जब से आईपीएस अधिकारियों की पांचवा वेतन लागू किया गया है इस पांचवे वेतन के लागू होने के बाद सैलरी काफी अच्छी हो गई है एंट्री लेवल आईपीएस अधिकारी को 1 महीने में लम सम ₹40000 मिलते हैं

मध्य अस्तर आईपीएस अधिकारी को ₹60000 निम्नतम मिलते हैं और वरिष्ठ स्तर के अधिकारी को निम्नतम ₹80000 के आसपास मिलते हैं

अपने वेतन के अलावा भी जिस क्षेत्र में रहते हैं जहां उनकी पोस्टिंग की जाती है वहां पर भी अलग-अलग विशेष भतों के हकदार होते हैं हालांकि यह केवल कुछ क्षेत्र व स्थानों के लिए एक चर राशि होती है भारत सरकार ने आईपीएस अधिकारियों के वेतन के लिए 1 ग्रेड तय की गई है ws

कुछ महत्वपूर्ण बातें –
जैसा कि हम जानते हैं IAS और PCS का फॉर्म UPSC फरवरी के स्टार्टिंग मंथ में ऑनलाइन या ऑफलाइन हर साल निकलता है जिसमें लगभग 10 लाख से भी ज्यादा स्टूडेंट उस फॉर्म को अप्लाई करते हैं

और वह पहला पेपर preliminary exam 5 लाख बच्चे देने जाते हैं जिसमें से क्वालिफाइड होते हैं 15 हजार के करीब और इंटरव्यू तक जाते जाते कुल छात्रों की संख्या 2800 हो जाती है जिसमें से 2800  बच्चों में से सिर्फ 800 बच्चे ही इंटरव्यू पास कर पाते हैं

आईपीएस अधिकारी बनने के कुल 7 चरण होते हैं जैसे –
1- 12th class clear kare
2- Graduation clear Karen
3- Ab UPSC exam ke liye apply Kare
4- Preliminary exam clear kare
5- Ab main exam clear Kare
6- Ab uske bad interview clear Karen
यह सात चरण पास करने के बाद आपको आईपीएस ऑफिसर की ट्रेनिंग के लिए पहले मसूरी और उसके बाद हैदराबाद भेज दिया जाता है आपको फिजिकल ट्रेनिंग भी दी जाती है।

Leave a Comment