ipc dhara 406 kya hai ?

ipc dhara 406 क्या है

ipc dhara 406 kya hai ?

ipc dhara 406 kya hai ( section 406 IPC ) पूरी जानकारी एमएनसी कंपनी का अधिकारी किसी कर्मचारी दोस्त या परिवार के सदस्य  जीस पे वह सबसे ज्यादा विश्वास करता है अपने कंपनी की पूरी जिमेदारी छोड  जाता है

अगर वह कंपनी के साथ कुछ गलत करता है उसके समान को बेच  देता है है document को इधर उधार कर  देता है पैसे को उधार कर देता है या कंपनी के टर्नओवर किसी और के हाथों में देता है

मलिक वापस आता है तो अपना कंपनी का सारा दस्तावेज़ पैसा सब देखता है और उससे पुछता है और यह तो वह अपने नाम कर देता है या वह किसी और को देता है

तो ऐसे में हम धोखा दड़ी विश्वास घात का हनन ( criminal breach of trust ) मामला ipc dhara 405 के तहत परिभाषित किया गया है। आपराधिक विश्वासघात के लिए  ipc dhara 406 अंतरगत सजा की शिकायत का प्रावधान दिया गया है ।

  • ipc dhara 406 आपराधिक विश्वास का उल्लंघन तथा इसे कनुनी भाषा और अंग्रेजी में ( criminal breach of trust ) कहते है
  •   ipc dhara 406 विश्वास का उल्लंघन के अंतरगट हम
  • बिस्वासघाट करने पर ये धोखा धडी करने पर हम   धारा ipc 406 के साथ 420 भी लगा सकते हैं

और भी पढ़े

ipc ki dhara 406 में सजा का प्रावधान

  • 3 साल की सजा लेकिन अपराध गंभीर होना चाहिए ।
  • Congnizable  संज्ञेय आपराधिक अपराध हैं।
  • Non- bailable  गैर जमानती है।
  • negotiable समझौता योग्य है।
  • प्रथम श्रेणि के मजिस्ट्रेट में प्रेस किया जा सकता हैं।
  • Police 🚨 गिरफ़्तार करने के लिए कोई वारंट की जरूरत नहीं है।
  • हाईकोर्ट में एक दसरे के सामने वकील का

 

ipc dhara 498 A के साथ 406 भी लगा जाता है 

ipc dhara 498 के साथ 406 धारा भी लगाती है जो स्त्री धन होता है  जब किसी भी लड़की की शादी होती है तू अपने ससुराल मैं फर्नीचर आभूषण कपड़े उपहार इलेक्ट्रॉनिक समान और सब लेकर जाती है

वह अपना सारा समान अपने पति या सास  को दे देता है अगर उसके साथ कोई गलत व्यवहार या उस्के ऊपर अत्याचार हो घर से निकल दिया जाए ipc dhara 498 A ipc dhara 406 विश्वाहानान करने के जुर्म में एफआईआर दरज किया जाता है

ipc dhara 498 के साथ 406 लगी हो तो कैसे खरिज करें?

406 ने हमे यह देखना है की उसमें क्या लिखा है क्या झूठ बोल रही है मुझे वो लिखा भी है की नहीं इस्तेमाल धारा 406  जो भी समान आभूषण उपहार  है  उसका तारीख और समय राशिद और कितना पैसा है  पति को कब दिया गया है

और वह बात सही है की नहीं पहले तो हम लगाते हैं अगर वह सब ठीक नहीं है तो हमारा केस मजबूत हो सकता है

पत्नी का क्रॉस प्रश्न  के पति के तरफ से ऐसा पूछा क्या की सच सामने आ जाए Section-IPC dhara 406 में आपराधिक विश्वासघात के लिए सजा का प्रावधान है T.I.C

NOTE

दोस्तों हम आशा करते हैं कि हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको अवश्य पसंद आई होगी एवं आपके लिए लाभकारी सिद्ध होगी यदि आप हमें कोई सुझाव भी देना चाहते हैं तो कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं ।

दोस्तों शिक्षा से जुड़ी किसी भी प्रकार की किसी भी तरह की अगर आपको कोई भी जानकारी चाहिए तो आप हमें बेझिझक होकर कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते हैं

और आपके सवालों को मद्देनजर रखते हुए हमारा अगला लेख तैयार होगा जिसमें जिन भी छात्र – छात्राओं ने सवाल पूछा होगा उस आर्टिकल में उन सभी बच्चों का नाम प्रतिपादित होगा।

आप हमारे ब्लॉग पेज को लाइक करिए तथा अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिए ऐसा करने से आप हमारे टीम का मनोबल बढ़ाएंगे जिससे की  हम और भी मेहनत से आप सभी के लिए ढेरों जानकारी ला सके और आप तक पहुंचा सके।

धन्यवाद

Next Post

Leave a Reply

Your email address will not be published.